Bank Of India FD Scheme: इस स्कीम में करें 2 साल तक निवेश, मिलेंगे 5 लाख 82 हजार रुपए

Bank Of India FD Scheme: अगर आप बैंक में अपने पैसे फिक्स्ड डिपॉजिट करना चाहते हैं, तो ऐसे में खासतौर बैंक ऑफ़ इंडिया के ग्राहकों के लिए काफी अच्छी खबर हैं।

क्योंकि बैंक ऑफ़ इंडिया ने अपने ग्राहकों के लिए इस योजना को शुरू किया हैं। इसके अलावा आप इस स्किम में अलग-अलग अवधि के अनुसार पैसे निवेश कर सकते हैं।

लेकिन याद रहे की यहां पर अगर आप अवधि के अनुसार कम पैसे जमा करते हैं, तो आपको अवधि के अनुसार ही ब्याज मिलेगा। यह बैंक एफडी करवाने पर काफी अच्छा रिटर्न दे रही हैं।

अगर बीओआई एफडी स्कीम (BOI FD Scheme) में कोई वरिष्ठ नागरिक पैसा जमा करते हैं,‌ तो उनको अतिरिक्त ब्याज प्रदान किया जाता है। बता दें कि, आप इस स्कीम में 7 दिनों से लेकर 10 साल तक निवेश कर सकते हैं।

अगर आपको इस स्कीम में इन्वेस्ट करना हैं,‌ तो इसके लिए आपको बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में जाना होगा और वहां पर जाकर अपना खाता खोलना होगा।

कितने मिलेंगे 5 लाख रुपए जमा करने पर

अगर कोई आम नागरिक बैंक आफ इंडिया एफडी स्कीम (Bank Of India FD Scheme) में 2 सालों के लिए 5 लाख रुपए निवेश करता हैं, तो इन 5 सालों में 77 हजार 270 रुपए ब्याज के तौर पर मिलेंगे। जबकि, मैच्योरिटी पर 5 लाख 77 हजार 270 रुपए मिलेंगे।

अगर वहीं वरिष्ठ नागरिक 5 लाख रुपए 2 सालों के लिए जमा करते हैं, तो उनको 7.75 प्रतिशत के हिसाब से टोटल ब्याज 82 हजार 964 रुपए मिलेगा और वहीं मैच्योरिटी पर 5 लाख 82 हजार 964 रुपए मिलेंगे।

इतना मिलता है ब्याज

अगर कोई आम नागरिक बीओआई फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम (BOI Fixed Deposit Scheme) में 180 दिन से लेकर 210 दिन तक पैसे जमा करता है, तो ऐसे में उनको 6.25 फ़ीसदी तक ब्याज मिलता है और वही वरिष्ठ नागरिकों को भी 6.25 फ़ीसदी तक ब्याज मिलता हैं।

लेकिन कोई व्यक्ति केवल 175 दिनों के लिए एफडी करता हैं, तो उनको 7.50 प्रतिशत तक ब्याज प्रदान किया जाता हैं। इसके अलावा कोई व्यक्ति 1 साल के लिए निवेश करता है तो उनको 7. 25 फ़ीसदी तक ब्याज मिलता हैं।

इसके अलावा 2 साल से लेकर 3 साल तक एफडी में निवेश करने पर 6.75 प्रतिशत तक ब्याज मिलता हैं। 3 साल से लेकर 5 सालों तक निवेश करने पर अधिकतम 7.25 प्रतिशत तक ब्याज मिलता हैं।

एफडी से मिलने वाले ब्याज पर देना होगा टैक्स

अगर आप बैंक आफ इंडिया एफडी स्कीम (Bank Of India FD Scheme) में अपने पैसे निवेश करते हैं और उससे मिलने वाला जो ब्याज मिलता है वह ब्याज टैक्सेबल होता है। मतलब की एफडी करने पर जितना ब्याज मिलेगा उसी हिसाब से आपके पैसे कट जाएंगे।

मान लीजिए अगर आप न्यूनतम 1 साल में इस स्कीम में 2 लाख 50 हजार रुपए से कम निवेश करते है, तो आपका टीडीएस नहीं कटता हैं। अगर आप ऐसे में टीडीएस को बचाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको शुरुआत में फॉर्म 15G या फिर 15H भरना होगा।

इसके अलावा अगर आपको एफडी करने पर 40 हजार रुपए से कम ब्याज मिलता है, तो ऐसी स्थिति में टीडीएस नहीं कटता है। परंतु अगर वहीं 40 हजार रुपए से अधिक ब्याज मिलता है, तो आपका 10 प्रतिशत तक का टीडीएस काटा जाता है। ध्यान रहे की ऐसे में अगर बैंक को आप पैन कार्ड नहीं देते हैं, तो 20 फ़ीसदी तक ब्याज काटा जा सकता हैं।

Leave a Comment